प्रीतम लोधी पर बागेश्वर धाम नें दी अपनी प्रतिक्रिया, बोले- मुझे मिला तो मैं मसल दूंगा; समाज से बहिष्कार करने की अपील की, जानिए मामला

लोकमतसत्याग्रह/भोपाल  देश-दुनिया में अपनी पहचान बना चुके कथावाचक बागेश्वर धाम बीजेपी नेता के बयान से गुस्सा हैं। उन्होंने नेता द्वारा दिए गए बयान पर सख्त आपत्ति जताते हुए समाज से बहिष्कार करने की बात कही। उन्होंने कहा कि मेरे सामने अगर वो नेता आया तो मैं उसे मसल दूंगा। बागेश्वर धाम के नाम से मशहूर और बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री यहीं नहीं रुके, उन्होंने बीजेपी नेता के DNA पर शंका व्यक्त की। 

बागेश्वर धाम ने ये कहा

बीजेपी नेता और उमा भारती के करीबी प्रीतम लोधी  की तरफ से की गई ब्राह्मण समाज के खिलाफ टिप्पणी का मामला बढ़ता जा रहा है। सोशल मीडिया पर कथावाचक बागेश्वर धाम का वीडियो सामने आया है। उन्होंने बीजेपी नेता प्रीतम लोधी के बयान पर ऐतराज जताते हुए कहा- बीजेपी नेता का एक भाषण सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसमें वो कह रहा है ब्राह्मण और कथावाचक लोगों के आठ-आठ घंटे बर्बाद करते हैं, सार कुछ नहीं निकलता। इस पर बागेश्वर धाम के धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने अपने अंदाज ने जवाब देते हुए कहा कि कथा से ‘बाप’ निकलता है। उन्होंने आगे कहा कि कथा, ब्राह्मण और व्यास नहीं होते तो कोई बाप (पिता) को नहीं पहचान पाता। संसार राम और कृष्ण के बारे में नहीं जान पाता। इस संसार को ब्राह्मण और कथावाचक की जरूरत है। उन्होंने आगे कहा कि यदि वह मुझे मिल गया तो मैं उसे मसल दूंगा।बागेश्वर धाम ने कहा कि कथावाचकों की वजह से लाखों लोगों के घर टूटने से बच जाते हैं। लोग नशा करना छोड़ देते हैं। उन्होंने कहा जिस नेता ने ब्राह्मणों और कथावाचकों को लेकर ऐसा बयान दिया है, उसका डीएनए सनातन धर्म का नहीं है, वह किसी अन्य धर्म का डीएनए है। उन्होंने व्यास गद्दी से अपील की कि समाज को ऐसे लोगों का बहिष्कार करना चाहिए।

ये कहा था बीजेपी नेता ने

कथावाचक सहित पंडित आपको नवरात्रि के नौ दिन रोजाना सात-आठ घंटे तक पागल बनाते हैं। कहते हैं कि अगर तुम दान करोगे तो भगवान तुमको देगा। महिलाएं इनकी बातों में आ जाती हैं और दूध, घी, दही अपने बच्चों को खिलाने की बजाय इन्हें दे देती हैं। ब्राह्मण नौ दिन तक आपको उल्लू बनाने और बातें करने के आपसे 25 से 50 हजार रुपए भी लेता है। इतना ही नहीं ये लोग सुंदर महिलाओं के घर चयन करते हैं। उनके घर जाकर कहते हैं, महाराज आज शाम का भोजन आपके यहीं करेंगे। लेकिन इनकी नजर कहीं और ही होती है। कथा के दौरान यह कहते हैं कि 20 से 30 साल की महिलाएं आगे बैठ जाओ। 30 से 45 साल की महिलाएं बीच में और बुजुर्ग महिलाएं पीछे बैठ जाओ। इसके बाद यह गाने गा-गाकर उन्हें नचवाते हैं और खुद ऊपर बैठे आनंद लेते हैं।

वीडी शर्मा ने प्रीतम लोधी को बीजेपी से बाहर किया 

बीजेपी नेता प्रीतम लोधी को पार्टी ने बाहर का रास्ता दिखा दिया है। प्रीतम को प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा की माफी नहीं मिल पाई है। माफी मांगने के बाद भी प्रीतम लोधी को पार्टी संगठन ने प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया है। इससे पहले प्रीतम लोधी ने वीडी शर्मा के बंगले पर पहुचकर लिखित माफीनामा दिया। वीडी शर्मा ने इस टिप्पणी पर प्रीतम लोधी को जमकर फटकार लगाई। 

प्रीतम के खिलाफ हुए प्रदर्शन

प्रीतम लोधी के खिलाफ प्रदेश में अलग-अलग जगहों पर विरोध प्रदर्शन हुए।  भोपाल में अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज ने एमपी नगर में प्रीतम लोधी की फोटो को आग लगाकर विरोध प्रदर्शन किया। ग्वालियर में भी ब्राह्मण समाज ने एसपी ऑफिस पर प्रदर्शन किया। इसके बाद ग्वालियर के झांसी रोड थाने में प्रीतम लोधी पर एफआईआर दर्ज की गई है।  

कौन हैं प्रीतम लोधी

ग्वालियर के जलालपुर से सरपंच रहे प्रीतम लोधी पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती के रिश्तेदार हैं। उमा की बहन की बेटी की शादी प्रीतम लोधी के बेटे से हुई है। लोधी शिवपुरी जिले की पिछोर विधानसभा से भाजपा के टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ चुके हैं। इस वीडियो के पीछे उन्होंने पिछोर से विधायक केपी सिंह के समर्थकों को बताया है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s