महापंचायत के लिए जंतर-मंतर पर जुटने लगे किसान सरकार से अनुमति नहीं; धारा 144 लागू, बॉर्डर पर बैरिकेडिंग

लोकमतसत्याग्रह/संयुक्त किसान मोर्चा ने आज जंतर-मंतर पर महापंचायत करने का एलान किया है। लेकिन दिल्ली पुलिस ने किसानों को जंतर-मंतर पर महापंचायत करने की अनुमति नहीं दी है। ऐसे में ये तय नहीं है कि किसानों का क्या रुख रहेगा। दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने बताया कि अनुमति नहीं देने की सूरत में किसानों को दिल्ली में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। हालांकि जो किसान नई दिल्ली में आ चुके हैं वह जंतर-मंतर जा सकते हैं। दिल्ली पुलिस किसानों के रुख को देखते हुए सुबह ही अपनी रणनीति तय करेगी।

 दिल्ली पुलिस के एक अधिकारियों ने बताया कि किसानों ने महापंचायत के लिए अनुमति मांगी थी। नई दिल्ली जिला पुलिस ने जंतर-मंतर पर महापंचायत करने की अनुमति नहीं दी है। ऐसे में किसानों को दिल्ली में प्रवेश करने नहीं दिया जाएगा। बॉर्डरों पर बैरिकेड लगा दिए गए हैं। किसानों को प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। दिल्ली के अलावा नई दिल्ली के बॉर्डर को रविवार रात से ही सील कर दिया गया। किसानों को व उनके ट्रैक्टर-ट्रॉली और ट्रकों को नई दिल्ली में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। नई दिल्ली के सभी बॉर्डरों पर बैरिकेड लगा दिए गए हैं। चेकिंग के बाद ही लोगों को दिल्ली में प्रवेश करने दिया जा रहा था। पूरी दिल्ली पुलिस को अलर्ट पर रहने के लिए कहा गया है। 

बहादुरगढ़ स्टेशन पर उतरे 200 किसान
अधिकतर किसानों ने दिल्ली जाने के लिए पंजाब की ओर से आने वाली ट्रेनों का इस्तेमाल किया और बहादुरगढ़ स्टेशन पर खड़ी पुलिस के सामने ही जयकारे लगाते हुए दिल्ली में आए, जहां से वे सीधे बंगला साहिब गुरुद्वारे पहुंचे। यहां पहुंचे किसान पुराने परिचितों से मिलकर मेट्रो और बसों के जरिए दिल्ली में चले गए। किसानों का कहना है कि वे दिल्ली बॉर्डर पर पक्के मोर्चा लगाने नहीं आए हैं। अभी केवल एक दिन के प्रदर्शन के लिए आए हैं, ताकि सरकार को चेताया जा सके।

सरकार ने पहले की तरह से जिद बांधी तो फिर से बोरिया बिस्तर लेकर दिल्ली में धरना शुरू करने से पीछे नहीं हटेंगे। उधर, भाकियू नेता राकेश टिकैत को हिरासत में लेकर वापस भेज दिया गया है।

बॉर्डर पर किए गए सुरक्षा के व्यापक इंतजाम, लोहे और कंक्रीट के बैरिकेड रखे गए 
जंतर मंतर पर सोमवार को संयुक्त किसान मोर्चा व अन्य किसान संगठनों के महापंचायत को देखते हुए पुलिस सतर्क हो गई है। पुलिस किसानों को बॉर्डर पर रोकने की कोशिश कर रही है। इसके लिए बाहरी जिला पुलिस ने टिकरी बॉर्डर पर सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए हैं। एसीपी के निगरानी में कई निरीक्षकों की टीम को तैनात कर दिया गया है। सीसीटीवी कैमरे से बार्डर की गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है। बॉर्डर के पास सड़क के किनारे बैरिकेड और कंक्रीट के ढांचे रखवाए गए हैं। ताकि जरुरत पड़ने पर उसे सड़क पर रखकर किसानों का रास्ता रोका जा सके। इसके लिए दिल्ली पुलिस ने क्रेन भी मंगवाई हैं। 

ड्रोन से भी रखी जा रही नजर
पुलिस इस बात को लेकर अलर्ट है कि कोई असामाजिक तत्व दिल्ली में प्रवेश न कर पाए। इसके लिए ड्रोन कैमरों की भी सहायता ली जाएगी और बॉर्डर पर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज पर भी निगरानी रखी जाएगी। दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने कहा कि जैसा आदेश होगा, वैसी कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s