प्रतिबंध के बाद अब पीएफ आई के दफ्तरों को किया जा रहा सील, योगी बोले- ये है नया भारत

लोकमतसत्याग्रह/आतंकवाद के लिए अपनी जीरो टोलेरेंस नीति पर काम करते हुए पीएम मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने UAPA के तहत पांच साल की अवधि के लिए पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) और उसके सहयोगी संगठनों पर प्रतिबंध लगा दिया है। गृह मंत्रालय की ओर से इसके लिए अधिसूचना (नोटिफिकेशन) भी जारी कर दी गई है।  अब इस मामले पर कई नेताओं की प्रतिक्रियाएं भी आ रही हैं।

अगर PFI के संबंध आतंकी संगठन से थे तो आप इतने दिनों से क्या कर रहे थे: कमलनाथ

PFI पर बैन को लेकर मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता कमलनाथ ने कहा कि  जनता को सुरक्षा चाहिए। अगर इतने दिन से ये हो रहा था तो आप क्या कर रहे थे? ये साल भर में तो पैदा नहीं हुई। क्या सबूत अभी मिले हैं? अगर ये आतंकवादी संस्थाओं से पहले से जुड़ी थी तो आप इतने साल क्या कर रहे थे। 

पीएफआई के निशाने पर पीएम मोदी भी थे 

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) को लेकर एक और सनसनीखेज खुलासा करते हुए बताया कि इस साल जुलाई में बिहार की राजधानी पटना में पीएफआई(PFI)ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमले करने की खतरनाक योजना बनाई थी। इसके लिए संगठन ने पटना में ट्रैनिंग कैंप भी लगाया था और कई सदस्यों को ट्रेनिंग देने का काम किया। इतना ही नहीं वित्तपोषण के लिए कई विदेशी ताकतों के संपर्क में थे। पीएम मोदी के हर गतिविधियों पर नजर रखी जा रही थी। मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक केवल पीएम मोदी पर ही हमले नहीं बल्कि PFI अन्य हमलों के लिए भी टेरर मॉड्यूल तैयार कर रहा था।

आगे भी कार्रवाई जारी रखेंगे: अजय मिश्र टेनी

PFI पर बैन को लेकर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी ने कहा कि NIA के द्वारा जांच की जा रही थी, उसी के अनुरूप ये कार्रवाई की गई है। आने वाले समय में भी जैसे सूचनाएं मिलेंगी उसी के अनुसार कार्रवाई की गई।

जो भी कार्रवाई की गई है वो जनहित में की गई: केंद्रीय रक्षा राज्यमंत्री

केंद्रीय रक्षा राज्यमंत्री अजय भट्ट ने कहा कि देश के हित में जो उचित है वही किया गया है। देश की सुरक्षा का मामला है। देश में सभी लोगों की मांग है कि अराजक तत्व कोई भी हो उनसे देश को बचाया जाए। जो भी कार्रवाई की गई है वो जनहित में की गई है। वो स्वागत योग्य है।

देश के बाहर बैठे दुश्मनों से देश के अंदर बैठे दुश्मन ज्यादा खतरनाक: अनिल विज

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि देश के बाहर बैठे दुश्मनों से देश के अंदर बैठे दुश्मन ज्यादा खतरनाक हैं। PM मोदी ने PFI पर प्रतिबंध लगाकर देश को सुरक्षित रखने का काम किया है। PM द्वारा जो देश का शुद्धीकरण अभियान चलाया जा रहा है, हर भारतवासी उनके साथ है।

पीएफआई के दफ्तरों को सील करने की प्रक्रिया तेज

केंद्र सरकार के प्रतिबंध लगाने के बाद पीएफआई (PFI) के दफ्तरों को सील करने की प्रक्रिया तेज कर दी गई है। सुरक्षा के मद्देनजर भारी पुलिस बल की तैनाती की गई है। 

पुलिस हाई अलर्ट पर: कर्नाटक डीजी

कर्नाटक के डीजी और आईजीपी प्रवीण सूद ने कहा कि भारत सरकार ने पीएफआई और उसके अन्य सहयोगी संगठनों पर प्रतिबंध लगा दिया है। राज्य सरकार गैरकानूनी गतिविधि अधिनियम के अनुसार आगे की कार्रवाई करेगी। कोई विरोध नहीं हुआ है और अगर कोई ऐसा करता है तो सख्त कार्रवाई की जाएगी। पुलिस अलर्ट पर है और सख्त कार्रवाई करेगी। 

यूपी के सीएम योगी बोले- ये है नया भारत

पीएफआई पर प्रतिबंध लगाने के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर खुशी जताई है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है कि राष्ट्र विरोधी गतिविधियों में संलिप्त पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) और उसके अनुषांगिक संगठनों पर लगाया गया प्रतिबंध सराहनीय एवं स्वागत योग्य है। यह ‘नया भारत’ है, यहां आतंकी, आपराधिक और राष्ट्र की एकता व अखंडता तथा सुरक्षा के लिए खतरा बने संगठन एवं व्यक्ति स्वीकार्य नहीं।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s